JJP से निष्कासित आदमी कहीं जाए, 1 सिंतबर को पद से हटा दिया था महेश चौहान को: दिग्विजय चौटाला

चंडीगढ़।
बैठक
के
बाद
पत्रकारों
से
रूबरू
होते
जेजेपी
प्रधान
महासचिव
दिग्विजय
सिंह
चौटाला
ने
गुरुग्राम
में
हुई
एक
ज्वाइनिंग
के
सवाल
पर
कहा
कि
लंबे
समय
से
पार्टी
में
निष्क्रिय
होने
के
चलते
एक
सितंबर
को
ही
महेश
चौहान
को
डिप्टी
सीएम
कार्यालय
में
उन्हें
दिए
गए
पद
से
हटा
दिया
गया
था
और
उनकी
जगह
रेवाड़ी
निवासी
सुरेश
कुमार
को
उपमुख्यमंत्री
का
विशेष
सहायक
नियुक्त
कर
दिया
गया
था।
दिग्विजय
ने
पत्रकारों
को
महेश
चौहान
के
1
सितंबर
को
निष्कासन
आदेश
की
कॉपी
दिखाते
हुए
कहा
कि
हमारी
पार्टी
से
निकाला
हुआ
आदमी
कहीं
भी
जाए।

पत्रकारों
के
एक
सवाल
के
जवाब
में
दिग्विजय
ने
सरकार
से
मांग
की
कि
बुढ़ापा
पेंशन
के
लिए
आय
की
सीमा
10
लाख
रुपए
तक
होनी
चाहिए।
उन्होंने
यह
भी
कहा
कि
बुजुर्गों
की
बुढ़ापा
पेंशन
कटने
के
लिए
कुछ
अधिकारी
जिम्मेदार
हैं
और
उन
पर
कार्रवाई
होनी
चाहिए।
उन्होंने
कहा
कि
जिन
कारणों
से
कुछ
बुजुर्गों
की
पेन्शन
कटी
है
उनका
ब्यौरा
तैयार
कर
सरकार
से
जिम्मेदार
अधिकारियों
के
खिलाफ
कार्रवाई
की
मांग
करेंगे।

English abstract

The person expelled from JJP ought to go someplace, on September 1, Mahesh Chauhan was faraway from the submit: Digvijay Chautala

Supply hyperlink

Leave a Comment