सुप्रिया भट्टाचार्य ने भाजपा पर निकाली भड़ास, राज्‍यपाल से पूछा हेमंत सोरेन रहेंगे कि जाएंगे

Samachar

oi-Rahul Goyal

|

रांची, 17 सितंबर: झारखंड मुक्ति मोर्चा के महासचिव सुप्रियो भट्टाचार्य ने शुक्रवार को प्रेस कांफ्रेंस कर राज्यपाल और चुनाव आयोग से मांग की है कि आफिस आफ प्रोफिट मामले में निर्णय से राज्य सरकार और झामुमो को अवगत कराया जाए। पिछले दिनों इसी मांग के साथ एक प्रतिनिधिमंडल ने राज्यपाल से मुलाकात भी की थी और गुरुवार को स्वयं मुख्यमंत्री ने राज्यपाल से इसी प्रकार का आग्रह किया था।

cm hemant soren may be sacked soon in office of profit case by governor ramesh bais

भट्टाचार्य ने कहा कि भाजपा की साजिशों से बचने के लिए हम लोग न्याय व्यवस्था और राजभवन से संरक्षण की उम्मीद कर रहे हैं। सुप्रियो ने आरोप लगाया कि एक दिन पूर्व भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष ने जिस प्रकार की भाषा का प्रयोग किया और कहा कि हम ये सब नहीं होने देंगे। धमकी भरे लहजे में बात की जा रही है। उन्होंने कहा कि इन्हीं कारणों से मुख्यमंत्री नई दिल्ली गए हुए हैं। सवाल उठाया कि राजभवन और न्याय व्यवस्था से हमें संरक्षण नहीं मिले तो लोकतंत्र बचेगा कैसे।

उन्होंने आरोप लगाया कि साजिश के तहत झारखंड में बाबूलाल मरांडी की सरकार ने पिछड़ा वर्गों के लिए आरक्षण को 27 प्रतिशत से घटाकर 14 प्रतिशत कर दिया था और ऐसी ही साजिश के कारण झारखंड डोमिसाइल की आग में जल उठा था। समाज को भरोसे में लिए बगैर निर्णय लेने से ऐसा हुआ था। भाजपा और आजसू पर उन्होंने मूलवासी और आदिवासी विरोधी होने का भी आरोप लगाया।

ये भी पढ़ें:- हेमंत सोरेन के वकील ने चुनाव आयोग को लिखा पत्र, राजभवन को सौंपे गए सुझाव की मांगी कॉपीये भी पढ़ें:- हेमंत सोरेन के वकील ने चुनाव आयोग को लिखा पत्र, राजभवन को सौंपे गए सुझाव की मांगी कॉपी

इस दौरान झामुमो नेता सुप्रिया भट्टाचार्य ने पलटवार करते हुए भाजपा को मीर जाफर और आजसू को जयचंद का उपनाम दिया। कहा, दोनों दल समाज से गद्दारी कर रहे हैं।

English abstract

cm hemant soren could also be sacked quickly in workplace of revenue case by governor ramesh bais

Story first printed: Saturday, September 17, 2022, 17:08 [IST]

Supply hyperlink

Leave a Comment