राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के किए अंतिम दर्शन, वेस्टमिंस्टर हॉल में दी श्रद्धांजलि

राष्ट्रपति मुर्मू ने किया वेस्टमिंस्टर हॉल का दौरा

बता दें कि भारत की राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू, महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के राजकीय अंतिम संस्कार में शामिल होने और देश की तरफ से संवेदना व्यक्त करने के लिए तीन दिवसीय दौरे पर लंदन पहुंची हैं। राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने वेस्टमिंस्टर हॉल लंदन का दौरा किया, जहां महारानी एलिजाबेथ द्वितीय का शव अंतिम दर्शन के लिए रखा गया है। यहां पहुंचकर राष्ट्रपति ने अपनी और भारत के लोगों की ओर से दिवंगत आत्मा को श्रद्धांजलि अर्पित की।

विश्वभर के 500 नेता होंगे शामिल

विश्वभर के 500 नेता होंगे शामिल

महारानी के अंतिम संस्कार में दुनियाभर के शाही परिवार के सदस्यों समेत करीब 500 विश्व नेता शामिल हो रहे हैं। महारानी का अंतिम संस्कार सोमवार को वेस्टमिंस्टर एबे में होगा, जिसमें करीब 2,000 लोगों के शामिल होने की संभावना है। महारानी के अंतिम संस्कार से कुछ घंटों पहले वेस्टमिंस्टर हॉल को आम जनता के लिए बंद कर दिया जाएगा। सोमवार को स्थानीय समयानुसार सुबह 8:00 बजे वेस्टमिंस्टर एबे के प्रवेश द्वार विदेशी गणमान्य एवं अतिथियों के लिए खोले जाएंगे।

8 सितंबर को हो गया था निधन

8 सितंबर को हो गया था निधन

शोक समारोह स्थानीय समयानुसार सुबह 11 बजे शुरू होगा और एक घंटे बाद पूरे देश में दो मिनट के मौन के बाद समाप्त होगा। महारानी एलिजाबेथ द्वितीय का 8 सितंबर को स्कॉटलैंड के बाल्मोरल कैसल में 96 वर्ष की आयु में निधन हो गया था। राष्ट्रपति मुर्मू को रविवार शाम महाराजा चार्ल्स द्वितीय और क्वीन कंसोर्ट कैमिला द्वारा बकिंघम पैलेस में विश्व नेताओं के लिए आयोजित एक भोज में भी आमंत्रित किया गया है।

57 साल बाद होने जा रहा राजकीय अंतिम संस्कार

57 साल बाद होने जा रहा राजकीय अंतिम संस्कार

ब्रिटेन में 57 वर्ष बाद पहले राजकीय अंतिम संस्कार के बाद विंडसर में सेंट जॉर्ज चैपल में एक निजी कार्यक्रम में महारानी को दफनाया जाएगा। इससे पहले द्वितीय विश्वयुद्ध के दौरान ब्रिटेन प्रधानमंत्री रहे विंस्टन चर्चिल का 1965 में राजकीय अंतिम संस्कार किया गया था। विंस्टन चर्चिल ब्रिटिश इतिहास के सबसे चर्चित प्रधानमंत्री माने जाते हैं।

Supply hyperlink

Leave a Comment