मौज-मस्ती के लिए रची साजिश: होटल में बैठकर युवक ने गढ़ी अपने अपहरण की कहानी, आवाज बदलकर करता था बातचीत

ख़बर सुनें

दिल्ली में मौज-मस्ती करने के लिए सीए के एक छात्र ने खुद के अपहरण की झूठी कहानी बना डाली। आरोपी ने अपने परिवार से दो लाख की फिरौती मांग ली। मामला पुलिस तक पहुंचा तो चंद ही घंटों में इस पूरी कहानी से पर्दा उठ गया। न्यू उस्मानपुर थाना पुलिस ने इस पूरी साजिश से पर्दा उठाकर आरोपी ऋतिक सक्सेना (20) को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी को गुरुग्राम के एक होटल से दबोचा गया। उसने अपना अपराध भी कबूल कर लिया है। दरअसल, आरोपी ने मौज-मस्ती के चक्कर में अपनी कोचिंग की फीस भी खर्च कर डाली थी। जिसकी वजह से उसे रुपयों की सख्त जरूरत थी। पुलिस पकड़े गए आरोपी से पूछताछ कर मामले की छानबीन कर रही है।

पुलिस के मुताबिक, शुक्रवार को न्यू उस्मानपुर थाने में मैनपुरी, यूपी निवासी विवेक सक्सेना (45) ने अपने बेटे की फिरौती के लिए अपहरण की सूचना दी थी। विवेक ने बताया कि वह गांव में रहते हैं। उनका बेटा न्यू उस्मानपुर में अपने फूफा के पास रहता है। यहां वह लक्ष्मी नगर के एक कोचिंग सेंटर से सीए की तैयारी कर रहा है। गुरुवार सुबह वह कोचिंग के लिए गया था, लेकिन उसके बाद वह वापस नहीं लौटा। फोन करने पर उसका नंबर लग रहा था।

युवक ने परिजनों से मांगे थे दो लाख रुपये
शुक्रवार को परिजनों ने उसे कॉल किया तो अनजान व्यक्ति ने उसका फोन उठाया और दो लाख की डिमांड की। आरोपी का कहना था कि यदि बेटे की सलामती चाहते हो तो रुपये का इंतजाम कर लो। सूचना मिलने के बाद फौरन पुलिस ने मामला दर्ज कर कई टीमों का गठन कर दिया। छानबीन की गई तो ऋतिक की लोकेशन गुरुग्राम की मिली। एक टीम को वहां भेज दिया गया।

सीसीटीवी व सर्विलांस की मदद से घटना का हो गया खुलासा
जांच कर रही टीम को उसकी लोकेशन सिकंदरपुर मेट्रो स्टेशन के पास की मिली। परिजनों को उससे संपर्क करने के लिए कहा गया। सीसीटीवी व टेक्निकल सर्विलांस की मदद से पुलिस ने शुक्रवार रात को ऋतिक को सकुशल बरामद कर लिया। पूछताछ के दौरान आरोपी ने बताया कि उसने रुपयों की जरूरत पर खुद ही अपने अपहरण की साजिश रची थी।

युवक की एक गर्लफ्रेंड भी है
पूछताछ में बताया कि उसकी गर्लफ्रेंड भी थी। इसके अलावा उसे मौज-मस्ती भी करना थी। इस चक्कर में उसने अपनी कोचिंग की फीस भी खर्च कर दी थी। परिवार से वह रुपये नहीं मांग सकता था। इस लिए उसने अपने ही अपहरण की साजिश रचकर परिवार से रुपये वसूलने की योजना बनाई। वह गुरुग्राम के एक होटल में कमरा लेकर रुक गया। परिवार से वह खुद ही आवाज बदलकर बातचीत करता था। पुलिस ऋतिक से पूछताछ कर मामले की छानबीन कर रही है।

विस्तार

दिल्ली में मौज-मस्ती करने के लिए सीए के एक छात्र ने खुद के अपहरण की झूठी कहानी बना डाली। आरोपी ने अपने परिवार से दो लाख की फिरौती मांग ली। मामला पुलिस तक पहुंचा तो चंद ही घंटों में इस पूरी कहानी से पर्दा उठ गया। न्यू उस्मानपुर थाना पुलिस ने इस पूरी साजिश से पर्दा उठाकर आरोपी ऋतिक सक्सेना (20) को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी को गुरुग्राम के एक होटल से दबोचा गया। उसने अपना अपराध भी कबूल कर लिया है। दरअसल, आरोपी ने मौज-मस्ती के चक्कर में अपनी कोचिंग की फीस भी खर्च कर डाली थी। जिसकी वजह से उसे रुपयों की सख्त जरूरत थी। पुलिस पकड़े गए आरोपी से पूछताछ कर मामले की छानबीन कर रही है।

Supply hyperlink

Leave a Comment