जोधपुर में सीएम अशोक गहलोत ने किया इंदिरा रसोईयों का शुभारंभ,अब 8 रु में खाइए पेट भर खाना

Samachar

oi-Ankur Sharma

By समाचार डेस्क

|


जोधपुर,
18
सितंबर।

राजस्थान
के
मुख्यमंत्री
अशोक
गहलोत
ने
रविवार
को
जोधपुर
में
512
नई
इंदिरा
रसोईयों
का
शुभारंभ
किया.
इसके
साथ
ही
वर्तमान
में
संचालित
358
इंदिरा
रसोईयों
के
साथ
अब
इन
रसोईयों
की
कुल
संख्या
870
हो
गई.
उल्लेखनीय
है
कि
सीएम
गहलोत
ने
20
अगस्त
2020
को
प्रदेश
में
‘कोई
भूखा
ना
सोय’
की
संकल्पना
को
मूर्त
रूप
देकर
213
नगरीय
निकायों
में
358
स्थायी
रसोइयों
के
माध्यम
से
इंदिरा
रसोई
योजना
का
शुभारंभ
किया
था.

 जोधपुर में सीएम अशोक गहलोत ने किया इंदिरा रसोईयों का शुभारंभ,अब 8 रु खाइए पेट भर खाना

योजना
के
क्रियान्वयन
और
मॉनिटरिंग
के
लिए
जिले
में
जिला
कलक्टर
की
अध्यक्षता
में
गठित
जिला
स्तरीय
समन्वय
और
मॉनिटरिंग
समिति
(रथो)
द्वारा
रसोई
संचालन
के
लिए
300
से
अधिक
स्थानीय
सेवाभावी
संस्थाओं
अथवा
एनजीओ
का
चयन
किया
जाता
है.


8
रुपये
में
एक
समय
का
भोजन

इंदिरा
रसोई
के
माध्यम
से
जरूरतमंदों
को
8
रुपये
में
एक
समय
का
भोजन
दिया
जाता
है.
जरूरतमंदों
को
स्थाई
रसोईयों
में
सम्मानपूर्वक
बैठाकर
स्थानीय
स्वादानुसार
दो
समय
(दोपहर
और
रात्रिकालीन)
का
शुद्ध
और
पौष्टिक
भोजन
दिया
जाता
है.
योजना
के
तहत
रसोई
संचालकों
को
प्रति
थाली
12
रुपये
राजकीय
अनुदान
जिसे
बढ़ाकर
1
जनवरी
2022
से
17
रुपये
प्रति
थाली
कर
दिया
गया
है.
रसोई
संचालकों
को
रसोई
के
लिए
रोजमर्रा
कार्य
जैसे
बिजली,
पानी,
इन्टरनेट
के
बिल,
रसोई
साज-सज्जा
एवं
मरम्मत
आदि
के
व्यय
हेतु
50,000
रुपये
प्रति
रसोई
अग्रिम
दिए
जाने
का
प्रावधान
किया
गया
है.


7
करोड़
भोजन
की
थालियां
परोसी
गई

योजना
के
अन्तर्गत
जिलास्तरीय
समन्वय
समिति
की
पूर्वानुमति
से
एक्सटेन्शन
काउन्टर
बनाकर
भी
भोजन
वितरण
किए
जाने
का
प्रावधान
है.
अब
तक
योजनान्तर्गत
7.01
करोड़
भोजन
थाली
परोसी
जा
चुकी
है,
जो
की
लक्ष्य
का
72.32
प्रतिशत
है.
1000
रसोईयों
के
संचालित
होने
पर
प्रतिवर्ष
13.81
करोड़
भोजन
थाली
परोसी
जाकर
व्यक्तियों
को
लाभान्वित
किया
जा
सकेगा.

जोधपुर पहुंचे सीएम अशोक गहलोत, शहरी ओलंपिक को लेकर कही खास बातजोधपुर
पहुंचे
सीएम
अशोक
गहलोत,
शहरी
ओलंपिक
को
लेकर
कही
खास
बात

English abstract

CM Ashok Gehlot inaugurated 512 new Indira Rasoi in Jodhpur At the moment, learn particulars right here.

Supply hyperlink

Leave a Comment