जब खाना ना मिलने से मरने की कगार पर पहुंच गए थे नवाजुद्दीन सिद्दीकी, हो गई थी ऐसी हालत

Nawazuddin Siddiqui Battle : बॉलीवुड इंडस्ट्री के वर्सेटाइल एक्टर नवाजुद्दीन सिद्दीकी (Nawazuddin Siddiqui) की एक्टिंग की पूरी दुनिया दीवानी है. वह फिल्मों में अपने हर किरदार में जान फूंक देते हैं. नवाजुद्दीन सिद्दीकी आजकल एक फिल्म के लिए करोड़ों की फीस लेते हैं, लेकिन एक समय ऐसा भी था कि उनके पास खाने तक के लिए पैसे नहीं होते थे. अपनी बिगड़ती सेहत को देखकर उन्होंने मान लिया था कि वह नहीं बचेंगे.

संघर्ष के दिनों को किया याद
हिन्दुस्तान टाइम्स के साथ इंटरव्यू के दौरान नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने अपने संघर्ष के दिनों को याद करते हुए बताया कि वह शुरुआत से ही मजदूरों की तरह मेहनती और लड़ने वाले स्वभाव के रहे हैं. उन्होंने कहा- ‘मैंने कभी स्टार बनने का सपना नहीं देखा और उस समय इरादा सिर्फ किसी भी तरह अपना जीवन यापन करना था और खाने के लिए कमाई करनी थी.’


Information Reels

खाने तक के लिए नहीं थे पैसे
नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने बताया कि संघर्ष के दिनों में उनके पास खाने के लिए भी पैसे नहीं होते थे. ऐसे में वह अपने दोस्तों के घर खाना खाने के लिए पहुंच जाते थे. नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने बताया, ‘मेरे लिए वह मुश्किल दौर था, लेकिन हम बहुत खुश थे. हां, कभी-कभी काम नहीं मिलने से तनाव महसूस होता था’.

बहुत कमजोर हो गए थे नवाजुद्दीन सिद्दीकी
इंटरव्यू के दौरान नवाजुद्दीन सिद्दीकी (Nawazuddin Siddiqui) ने अपने उस दौर को भी याद किया जब ठीक से खाना ना खाने की वजह से वह बहुत कमजोर हो गए थे. उन्होंने कहा, ‘मैं बहुत कमजोर हो गया था. मेरे बाल तक झड़ने शुरू हो गए थे. दो किलोमीटर चलता था, तो मैं बहुत थक जाता था. उस वक्त लगा कि मैं अब मरने वाला हूं. ज्यादा दिनों तक जी नहीं पाऊंगा. इसके बाद मैंने बाहर की दुनिया देखने के लिए पूरा दिन घूमना शुरू कर दिया. मुझे लगा कि पता नहीं अब मैं और कितने दिन जीने वाला हूं’.

यह भी पढ़ें- Aryan Khan से लेकर Navya Nanda तक…वे स्टार किड्स जिन्होंने फिल्मों को कहा ‘ना’, चुना दूसरा करियर



Supply hyperlink

Leave a Comment