गढ़वा लाठीचार्ज मामले में हेमंत सरकार का एक्शन, सीओ और थानेदार को हटाया

Samachar

oi-Vivek Singh

|


गढ़वा,
18
सितम्बर।

गढ़वा
जिले
के
मेराल
प्रखंड
में
विगत
20
अगस्त
को
थाना
का
घेराव
कर
रहे
ग्रामीणों
पर
पुलिस
द्वारा
लाठीचार्ज
करने
के
मामले
में
हेमंत
सोरेन
सरकार
के
स्तर
से
बड़ी
कार्रवाई
की
गई
है।
राज्य
सरकार
ने
सीओ
अंगारनाथ
स्वर्णकार
का
तबादला
कर
दिया
है।
उन्हें
मेराल
अंचल
कार्यालय
से
हटाकर
भूमि
सुधार
विभाग
रांची
में
स्थानांतरित
कर
दिया
गया
है।
वहीं,
मेराल
थाना
प्रभारी
लाल
बिहारी
प्रसाद
को
पुलिस
अधीक्षक
अंजनी
कुमार
झा
ने
लाइन
हाजिर
कर
दिया
है।
रंका
थाना
में
पदस्थापित
एसआइ
नीतीश
कुमार
को
मेराल
थाने
का
नया
प्रभारी
प्रभारी
बनाया
गया
है।

Police

मालूम
हो
कि
मेराल
थाना
के
हासनदाग
गांव
में
नथन
चौधरी
की
हत्या
के
आरोप
में
पुलिस
ने
हिरासत
में
लिए
गए
संदिग्ध
को
थाना
से
छोड़
दिया
था।
इसके
विरोध
में
20
अगस्त
को
भारी
संख्या
में
ग्रामीणों
ने
थाने
का
घेराव
किया
था।
इसी
दौरान
पुलिस
एवं
ग्रामीणों
के
बीच
भिड़ंत
हो
गई
थी।
इस
दौरान
पब्लिक
की
ओर
से
जहां
पत्थरबाजी
की
गई
थी,
वहीं
पुलिस
ने
लाठीचार्ज
कर
दिया
था।
पुलिस
ने
ग्रामीणों
को
दौड़ा-दौड़ा
कर
पीटा
था।
इस
दौरान
पुलिस
ने
मेराल
बाजार
के
कई
व्यवसायियों
सहित
राहगीरों
की
भी
पिटाई
कर
दी
थी।


डेढ़
दर्जन
लोगों
को
पुलिस
ने
भेजा
था
जेल

पुलिस
ने
इस
घटना
में
शामिल
होने
के
आरोप
में
डेढ़
दर्जन
से
अधिक
लोगों
को
पुलिस
ने
गिरफ्तार
कर
न्यायिक
हिरासत
में
भेज
दिया
था।
इस
घटना
के
विरोध
में
व्यवसायियों
ने
21
अगस्त
को
अपनी-अपनी
दुकानें
बंद
रखी
थीं।
इस
कार्रवाई
का
विरोध
जताया
था।
पुलिस
की
इस
कार्रवाई
से
ग्रामीणों
में
रोष
व्याप्त
था।
ग्रामीण
लगातार
पुलिस
की
आलोचना
कर
रहे
थे।


डीआइजी
की
जांच
रिपोर्ट
पर
हुई
कार्रवाई

मामला
संज्ञान
में
आने
के
बाद
मुख्यमंत्री
हेमंत
सोरेन
के
निर्देश
पर
इस
मामले
की
जांच
पलामू
डीआइजी
राजकुमार
लकड़ा
द्वारा
की
गई।
डीआइजी
ने
घटना
के
दिन
मौके
पर
मौजूद
पुलिस
पदाधिकारियों,
मेराल
बीडीओ,
सीओ
और
ग्रामीणों
का
बयान
कलमबद्ध
किया।
इसके
बाद
जांच
प्रतिवेदन
सरकार
को
सौंपा
था।
बताया
जा
रहा
है
कि
डीआइजी
की
जांच
रिपोर्ट
के
आलोक
में
मेराल
सीओ
एवं
थाना
प्रभारी
पर
उक्त
कार्रवाई
की
गई
है।

कचहरी में अब सरकार के पक्ष में आ रहे हैं फैसले, सीएम हेमंत सोरेन ने कहाकचहरी
में
अब
सरकार
के
पक्ष
में

रहे
हैं
फैसले,
सीएम
हेमंत
सोरेन
ने
कहा

English abstract

jharkhand garhwa lathi cost co and sho transferred

Story first printed: Sunday, September 18, 2022, 20:40 [IST]

Supply hyperlink

Leave a Comment