कानपुर के ट्विन टावर: ‘योगी जी, ध्वस्त करा दीजिए हमारा अपार्टमेंट’ जानिए फ्लैट मालिकों ने क्यों की ऐसी मांग?

योगी जी, ध्वस्त करा दीजिए हमारा अपार्टमेंट, केडीए के भ्रष्ट अफसरों ने कमीशन खाकर बना डाला है केडीए रेजीडेंसी… कुछ इसी तरह के स्लोगन लिखे बैनर अपार्टमेंट में रहने वाले परिवारों ने बिल्डिंग के दीवार पर शनिवार को लगा दिए। सोशल मीडिया पर बैनर वायरल होने पर केडीए के अधिकारी मौके पर पहुंचे और दो दिन बाद टीम बुलाकर जांच कराने का आश्वासन दिया। गुस्साई महिलाओं ने अधिकारियों का घेराव कर खूब खरीखोटी सुनाई। किदवई नगर ओ ब्लॉक स्थित केडीए रेजीडेंसी अपार्टमेंट ए-1 और अपार्टमेंट ए-2 की बीम में सौ दरारें हैं। अब पिलर में भी दरारें आ गई हैं। यहां 192 फ्लैट है जिसमें 172 परिवार रहते हैं।

अपार्टमेंट में रहने वालों लोगों को आरोप है कि बेसमेंट में पानी का रिसाव, पार्किंग की बीम में दरारें हैं। सूचना के बाद भी इस ओर कोई ध्यान नहीं दे रहा है। कभी भी बड़ा हादसा हो सकता है।

महिलाओं ने बताया कि डर के साये में हम सब जीने पर मजबूर हैं। अपार्टमेंट ओनर्स वेलफेयर एसोसिएशन के सचिव एमएस गुप्ता और मुकेश अग्रवाल ने बताया कि दो दिन में निष्कर्ष नहीं निकला तो केडीए दफ्तर के सामने आमरण अनशन पर बैठने को मजबूर होंगे।

केडीए रेजीडेंसी वाली खबर में कोट

पिलर में हेयर लाइन दरार दिखने पर एचबीटीयू और आईआईटी के सिविल इंजीनियरिंग विभाग के तकनीकी विशेषज्ञों से जांच कराई है। प्रारंभिक जांच रिपोर्ट के अनुसार, स्ट्रक्चरल सेफ्टी के लिहाज से बिल्डिंग पूरी तरह सुरक्षित है। 

आवंटियों की समस्याओं के निराकरण के लिए तीन सदस्यीय समिति गठित की है। संबंधित ठेकेदार को पूर्व में चेतावनी के साथ नोटिस दिया गया था। समस्याओं का समय से निस्तारण न होने पर लापरवाहों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। -रोहित खन्ना, मुख्य अभियंता, केडीए

Supply hyperlink

Leave a Comment