कांग्रेस अध्‍यक्ष चुनाव : डेलिगेट्स की पहली बैठक में CM गहलोत ने रखा राहुल को कमान सौंपने का प्रस्‍ताव

Samachar

oi-Vishwanath Saini

|

Google Oneindia News

जयपुर, 17 सितम्‍बर। कांग्रेस का राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष चुनने की प्रक्रिया तेज हो गई है। चुनाव को लेकर डेलिगेट्स की पहली बैठक हुई, जिसमें राजस्‍थान सीएम अशोक गहलोत ने राहुल गांधी को अध्‍यक्ष बनाने का प्रस्‍ताव रखा और वहां मौजूद कांग्रेस नेताओं से हाथ खड़े करवाकर समर्थन चाहा। सभी नेता भी चाहते हैं कि राहुल गांधी ही अध्‍यक्ष बने।

ashok gehlot

बता दें कि कांग्रेस के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष चुनने की प्रक्रिया यह है कि नए बनाए गए पीसीसी मेंबर्स की बैठक में सबसे पहले प्रदेश रिटर्निंग ऑफिसर की मौजूदगी में राष्ट्रीय अध्यक्ष, प्रदेश अध्यक्ष और दूसरे पदों पर फैसले का अधिकार हाईकमान पर छोड़ने का प्रस्ताव पारित किया गया।

प्रस्ताव के बाद प्रदेश रिटर्निंग ऑफिसर-पीआरओ- बैठक से चले गए। आधिकारिक प्रस्ताव यही है जो दिल्ली भेजा जाएगा। पीआरओ के बैठक से जाने के बाद सीएम अशोक गहलोत ने बैठक में कहा कि राहुल गांधी को अध्यक्ष बनाया जाना चाहिए, इस पर सभी अपनी राय रखें। गहलोत ने बैठक में मौजूद लोगों से राहुल को अध्यक्ष बनाए जाने पर राय जानी तो सबने हाथ खड़े करके समथर्न किया।

डोटासरा और मंत्री बोले- राहुल गांधी अध्यक्ष बनें

बैठक के बाद कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने कहा- कांग्रेस के नेता चाहते हैं कि राहुल गांधी अध्यक्ष बनें, यह हम सबकी भावना है जिसका इजहार हम बार बार करते रहेंगे। खाद्य मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने कहा कि बैठक में दो प्रस्ताव पारित किए हैं। राहुल गांधी को अध्यक्ष बनाने का सबने समर्थन करते हुए प्रस्ताव पास किया है। हम सब चाहते हैं कि राहुल गांधी पार्टी का नेतृत्व करें।

गहलोत पहले भी कर चुके राहुल की पैरवी

कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष के चुनाव की प्रक्रिया 24 सितंबर से शुरू हो रही है। अध्यक्ष पद पर गांधी परिवार के बाहर कई नेताओं के नाम चल रहे हैं, जिनमें सीएम अशोक गहलोत का नाम भी है। सीएम गहलोत कई बार सार्वजनिक रूप से राहुल गांधी को अध्यक्ष बनाने की पैरवी कर चुके हैं। पहले गहलोत ने कहा था कि राहुल गांधी को अध्यक्ष बनना चाहिए, मेरा बनता ही नहीं है। बाद में गहलोत ने कहा कि हाईकमान जो कहेगा वह करूंगा।

राहुल गांधी को अध्यक्ष बनाने का प्रस्ताव केवल मैसेज के लिए

राहुल गांधी को अध्यक्ष बनाने का प्रस्ताव प्रदेश रिटर्निंग ऑफिसर के जाने के बाद रखा गया। ऐसे में यह प्रस्ताव दिल्ली नहीं भेजा जाएगा , लेकिन सभी नेताओं ने हाथ खड़े करके राहुल गांधी के प्रति समर्थन जताकर सियासी तौर पर मैसेज देने का प्रयास किया है। गहलोत ने खुद प्रस्ताव रखा इसलिए सियासी तौर पर इसका महत्व है। गहलोत ने एक बार फिर राहुल गांधी को अध्यक्ष बनाने के लिए हाथ खड़े करवाकर मुद्दे को फर हवा दे दी है। गहलोत के बाद सभी मंत्री और नेता भी एक सुर में बोलते दिख रहे हैं।

पीसीसी मेंबर्स राहुल गांधी को अध्यक्ष बनाने के लिए भेजेंगे प्रस्ताव, बैठक में यह होगा फैसला पीसीसी मेंबर्स राहुल गांधी को अध्यक्ष बनाने के लिए भेजेंगे प्रस्ताव, बैठक में यह होगा फैसला

प्रभारी माकन ने बोले- हाईकमान पर पर फैसला छोड़ने का प्रस्ताव आधिकारिक

बैठक के बाद कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी अजय माकन ने कहा कि पीसीसी डेलीगेट्स की पहली बैठक में सर्वसम्मति से प्रस्ताव पास कियाहै जिसमें सभी पदों पर फैसले का अधिकार हाईकमान पर छोड़ा गया है, यही आधिकारिक प्रस्ताव है। माकन के बोलते ही प्रदेशाध्यक्ष डोटासरा ने कहा कि हम सबकी भावना है कि राहुल गांधी अध्यक्ष बनें।

English abstract

Ashok Gehlot proposed to make Rahul Gandhi the Nationwide President of Congress

Supply hyperlink

Leave a Comment